Blogger vs WordPress

Blogger vs WordPress

Blogger vs WordPress

अगर आप नयी ब्लॉग बनाना चाहते है तो ये सवाल आपमें मन में जरूर होगा की Blogger vs WordPress में किसका चयन करे और किसपे अपना ब्लॉग बनाये।

इस पोस्ट को आप अंत तक पढ़िए और मैं आशा करता हूँ की Blogger vs WordPress से जुड़े सारे सवालो का जवाब आपको सरलता से हिंदी में मिले।

Blogger vs WordPress के विस्तार explaination में हम एक एक करके दोनों की विशेषताएं साथ ही दोनों की खामियां बिना किसी पक्षपात के आपको बताएंगे।

ब्लॉगर (blogger) और वर्डप्रेस (wordpress) दोनों कंटेंट मैनेजमेंट सिस्टम सॉफ्टवेयर हैं जिनका इस्तेमाल आप अपने वेबसाइट पर अपने कंटेंट को मैनेज करने के लिए कर सकते हैं।

वेबसाइट होस्टिंग

होस्टिंग की बात करे तो WordPress का इस्तेमाल करने पर आपको benefit मिलता है क्यूंकि wordpress को आप किसी third party hosting कंपनी जैसे की Godaddy, hostinger आदि से ख़रीदे हुए hosting पर ऐड करके इस्तेमाल कर सकते है।

वही blogger पर आपको ये ऑप्शन नहीं मिलता। ब्लॉगर पर आपको अपनी वेबसाइट को ब्लॉगर के द्वारा प्रदान की जाने वाली होस्टिंग पर ही इस्तेमाल कर सकते हैं। Blogger का एक और फायदा है की Blogger पर आप unlimited पेजेज की होस्टिंग कर सकते हैं

वहीँ wordpress पर आपके pages की संख्या आपके hosting plans पर निर्भर करती हैं।

होस्टिंग के मामले में Blogger vs WordPress में वर्डप्रेस को प्राथमिकता दे सकते हैं। दूसरे होस्टिंग कमपनीज़ की होस्टिंग के साथ इस्तेमाल होने की वजह से wordpres इस मामले में बेहतर है।

Features (फीचर्स)

wordpress पर बहुत सारे plugins का विकल्प होता हैं। wordpress की विशेषताओं में से एक है उसके plugins. यहाँ आपको ढेर सारे प्लगिन्स का विकल्प मिलता है जिसका इस्तेमाल करके आप अपने website की SEO से लेकर optimization हर तरह के काम बेहद आसानी से कर सकते हैं। Internet पर आपको बहुत सारे वर्डप्रेस plug-ins मिलेंगे जो आपके वेबसाइट के काम को बहुत ही आसान बना सकते हैं.

वही blogger के अपने फायदे हैं। google का product होने की वजह से adsense और SEO में बहुत ही मदद मिलती हैं। गूगल blogger के pages को पहले से optimize कर देता है जिस से आपको रैंकिंग में मदद मिलती हैं। साथ ही Blogger SEO setting जो की blogger की अपनी SEO optimization tool है। इसकी मदद से आप अपने पोस्ट्स को और अच्छे से रैंकिंग के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं।

Blogger vs WordPress के दूसरे ऑप्शन में दोनों के अपने अपने फायदे है। आप अपने जरुरत और सहूलियत के हिसाब से चुनाव कर सकते हैं।

Support and Control (सपोर्ट एंड कण्ट्रोल )

किसी भी वेबसाइट के अहम् हिस्से होते है उसपे आपका control और आपके service provider द्वारा प्रदान किआ जाने वाला सपोर्ट। कभी भी वेबसाइट के साथ होने वाली परेशानी को आप service provider के अच्छे सपोर्ट से जल्द ही निपटा सकते हैं।

Blogger की ये सबसे बड़ी खामी है की वह proper support नहीं मिलता। हालाँकि कई सारे forums आपको इंटरनेट पर मिल जाएंगे जहाँ आपको अपने दिक्कतों का हल मिल जाएगा। ये forums Blogger के official नहीं होते हैं।

और साथ ही control के मामले में भी Blogger के ज्यादा फायदे नहीं हैं। Blogger पर आप अपने कंटेंट जैसे की images, videos या text को ही host कर सकते हैं। इनके अलावा दूसरे विकल्प Blogger प्रदान नहीं करता।

वहीँ wordpress में आपको wordpress के द्वारा proper support प्रोवाइड किया जाता हैं साथ ही आपकी किसी दिक्कत का कम से कम समय में सुलझाने के लिए wordpress की technical team पूरी कोशिश करती हैं। और WordPress दूसरे होस्टिंग कम्पनीज द्वारा provided स्पेस में इंटेग्रटे हो जाता हैं आपको support के लिए दो दो विकल्प मिलते हैं।

पहला तो wordpress का official support और दूसरा hosting company के द्वारा दिया जाने वाला सपोर्ट। इन सबके मदद से आप अपने blog या page पर आने वाली किसी भी परेशानी का जल्द ही समाधान निकाल सकते हैं।

और कण्ट्रोल के मामले में भी WordPress बेहतर साबित होता हैं। इसमें आपको emails add करने की साथ ही images, videos और हर तरह की फाइल को host कर सकते हैं। इस वजह से आप अपने कंटेंट को wordpress की मदद से ज्यादा अच्छे से showcase कर सकते हैं।

सपोर्ट और कण्ट्रोल के मामले में Blogger vs WordPress में wordpress के ज्यादा फायदे हैं और वो आपके लिए ज्यादा सहूलियत भरा रहेगा।

Updates and Security (अपडेट एंड सिक्यूरिटी)

update के मामले में Blogger बहुत ही पीछे है और उसमे न के बराबर ही अपडेट मिलते हैं। इसी कारन Blogger में नए features नहीं आ पाते। लेकिन Security के लिहाज़ से Blogger में ऐसी दिक्कते बहुत कम ही आती हैं, Google का product होने के चलते इसमें Server down जैसे issues नहीं होते और साथ ही आपको साइट की backup रखने की भी खास आवस्यकता नहीं होती। Google Account से लिंक्ड होने की वजह से इसके securities google की ही ज़िम्मेदारी होती हैं और गूगल इस मामले में बहुत ही अच्छा साबित होता हैं।

वही अगर WordPress की बात करे तो WordPress में नियमित तरीके से आपको Update प्राप्त होता है जिसमे कई नए features और पुरानी खामियों को WordPress दूर कर देती हैं।

पर सुरक्षा के लिहाज़ से WordPress में कई दिक्कते आ सकती हैं। क्योंकि सारा control आपके हाथ में होगा इसकी सुरक्षा की जिम्मेदारी भी आपकी ही होगी। गलत plugins या गलत theme इनस्टॉल करने से आपकी वेबसाइट क्रैश हो सकती है और आपका डाटा भी डिलीट हो सकता हैं।

इसके अलावा अगर आपने किसी ख़राब होस्टिंग कंपनी की hosting ले रखी है तो company के सर्वर्स डाउन होने के कारण आपके वेबसाइट पर भी असर पड़ सकता हैं।

Security and Updates के मामले में दोनों Blogger vs WordPress में से दोनों की अपनी खामिया हैं और दोनों के अपने अपने फायदे भी हैं। इस वजह से इस श्रेणी में Blogger vs WordPress दोनों एक ही सामान साबित होते हैं।

Conclusion

यहाँ मैंने हर Blogger vs WordPress की हर पहलु पर comparison करके आपको अच्छे से दोनों के फायदे और खामिया समझने की कोशिश की हैं।

अगर आपका कम खर्च में एक ब्लॉग रन करना चाहते हो तो Blogger आपके लिए सही विकल्प हैं वही अगर आप एक बड़ी website रन करना चाहते हो तो Wordpres का इस्तेमाल आपके लिए ज्यादा suitable रहेगा। Blogger vs WordPress में दोनों ही बेहतर है पर अगर आप थोड़े पैसे खर्च करना चाहते हो तो WordPress आपके लिए बेहतर विकल्प हैं।

अगर आपके मन में और सवाल है तो आप comment करके हमसे जुड़ सकते हैं साथ ही हमारे वेबसाइट पर blogging से related और भी जानकारियां उपलब्ध हैं उनका इस्तेमाल करके आप अच्छे से blogging सीख सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here